पता नही वो कौन लोग है.., जो महबूब के लिए दुनिया से लड़ जाते थे यहाँ तो महबूब से ही लड़ाई ख़त्म नहीं होती

www.hshayari.in

दिल एक है तो कई बार क्यों लगाया जाए…. बस एक इश्क ही काफी है अगर दिल से निभाया जाए..

www.hshayari.in

किसी को चाहकर छोड़ देना बहुत आसान है किसी को छोड़कर भी चाहो तो पता चलेगा मोहब्बत किसे कहते हैं

www.hshayari.in

मैंने तो सिर्फ तुझसे मोहब्बत करने की दुआ है, ये दुनिया लाख जले हमारी मोहब्बत से, लेकिन मैंने तो सिर्फ तुझसे मोहब्बत करने की सज़ा मांगी है।

www.hshayari.in

जीना चाहा तो जिंदगी से दूर थे हम मरना चाहा तोजीनेको मजबूरथे हम सर झुका कर कबूल कर ली हरसजा बस कसूर इतना था कि बेकसूरथे हम

www.hshayari.in

जाने क्यों आती है याद तुम्हारी, चुरा के जाती है आँखो से नींद हमारी. अब यही ख्याल रहता है सुबह शाम, कब होगी तुमसे मुलाकात हमारी.

www.hshayari.in

रिश्ता पति पत्नी का हो या प्रेमी प्रेमिका का जिंदगी की गाड़ी साथ में रात काटने से नही सुख दुःख बांटने से चलती है.!

www.hshayari.in

पता नही वो कौन लोग है.., जो महबूब के लिए दुनिया से लड़ जाते थे यहाँ तो महबूब से ही लड़ाई ख़त्म नहीं होती

www.hshayari.in

रूह से जुड़े रिश्तों पर.. फरिश्तों के पहरे होते है! कोशिश करलो तोड़ने की ये और भी गहरे होते है!!

www.hshayari.in

जिससे मोहब्बत की जाती है उसकी इज्जत मोहब्बत से ज्यादा की जाती है.

www.hshayari.in